Category: Uncategorized

Posted in Uncategorized अंतर्राष्ट्रीय

14 दिन तक हॉस्पिटल आईसोलेटेड रहेंगे गोंदिया के कोरोना संक्रमित युवक और अन्य 8 लोग, गोंदिया जिले में विदेश यात्रा कर पहुंचे कुल 221 लोग

Posted in Uncategorized

स्‍वागत है आपका लक्की स्‍टोर्स गोंदिया में..

Posted in Uncategorized

3 से 13 मार्च तक विभिन्न देशों से 32 विदेशी पर्यटकों ने ली नेशनल पार्क कान्हा में विभिन्न रिसोर्ट की शरण..

प्रशासन ने रिसोर्ट संचालकों की जांच के दिये आदेश..
जगप्रेरणा डॉट कॉम, बैहर/बालाघाट। 9329033433
बालाघाट और मंडला जिले के बीच स्थित कान्हा किसली नेशनल पार्क में भ्रमण करने के लिये प्रतिवर्ष भारी संख्या में विभिन्न देशों के पर्यटकों का जंगली जानवरों को देखने और सघन वन क्षेत्र में निश्चिंतता का समय बिताने के लिये आगमन होता है। इस वर्ष भी 3 से 13 मार्च के बीच लगभग 32 पर्यटकों का विभिन्न देशों के फ्रांस, जर्मनी, यूनाईटेड किंगडम, इटली, ऑस्टे्रलिया, यूनाईटेड स्टेट ऑफ अमेरिका आदि देशों से आगमन हुआ, तथा यह विदेशी पर्यटक कान्हा के जंगल लॉज, चितवन जंगल लॉज, शेरगढ़ टेंडेड कैम्प, कैम्प देव विलास, सेलीब्रेशन वन विलास, स्टेलरिंग कान्हा आदि विभिन्न रिसोर्ट में शरण ली, और यहां पर दो तीन दिन तक रुक कर फिर ये विदेशी पर्यटक अन्य स्थानों की ओर रवाना हो गए। इन विदेशी पर्यटकों के संबंध में जानकारी मिलने के बाद इनके संपर्क में होटल रिसोर्ट के अनेक कर्मचारी भी आए तो वहीं इन्हें भ्रमण करवाने वाले गाईड, वाहन चालकों के साथ ही ये अन्यत्र जिले से रवाना होने के दौरान भी किन किन के संपर्क में आए, इसकी जांच की जा रही है।
सभी चिन्हित लोगों को रखा जा रहा निगरानी में.. – कलेक्टर दीपक आर्य
बालाघाट कलेक्टर दीपक आर्य ने इस संबंध में जगप्रेरणा से चर्चा में कहा कि विदेश से बालाघाट पहुंचने वाले पर्यटकों के अलावा विदेश यात्रा कर जिले में पहुंचने वाले एवं विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में अन्य महानगरों से भ्रमण कर पहुंचने वाले लोगों की और उनके संबंध में आने वाले लोगों की निगरानी रखी जा रही है। संपूर्ण जानकारी एवं चिकित्सा व्यवस्थाओं के लिये स्वास्थ्य कर्मचारियों के अलावा आशा कार्यकर्ताओं, ग्राम पंचायत सरपंचों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी निर्देश दिये गए हंै। कलेक्टर श्री आर्य ने कहा कि लोग पूरा समय सिर्फ घर पर व्यतीत करें, घर से नहीं निकलें, और किसी के भी संपर्क में ना आएं, ताकि विश्व के लिये घातक बन चुके कोरोना वायरस के संक्रमण से मुकाबला कर उसे खत्म करने में सफलता प्राप्त हो। कलेक्टर श्री आर्य ने कहा कि फिलहाल बालाघाट जिले में कोई कोरोना वायरस पॉजीटीव नहीं पाया गया है।

 

Posted in Uncategorized

Posted in Uncategorized

वन विहार में आया नया तेन्दुआ

भोपाल के वन विहार राष्ट्रीय उद्यान में आज नरसिंहपुर वन मण्डल के गाडरवारा परिक्षेत्र से एक तेन्दुए के रेस्क्यू कर लाया गया है। स्वास्थ्य परीक्षण में तेन्दुए को वन क्षेत्र में छोड़ने के उपर्युक्त न पाये जाने पर इसे उपचार और निगरानी के लिये वन विहार लाया गया है। तेन्दुए को इलाज के लिये कोरनटाइन में रखा गया है।

Posted in Uncategorized

केंद्रीय गृह मंत्री ने दिल्ली पुलिस के 73वे स्थापना दिवस परेड समारोह की अध्यक्षता की

केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने आज दिल्ली पुलिस स्थापना दिवस परेड समारोह की अध्यक्षता नई दिल्ली में की। उन्होंने इस अवसर पर दिल्ली पुलिस के अफसरों को उनकी उत्कृष्ट सेवा के लिए पदक प्रदान किए। ल नहीं बल्कि देश की राजधानी का पुलिस बलदिल्ली पुलिस केवल दिल्ली का पुलिस ब है, जिस कारण पूरे देश को इससे प्रेरणा मिलती है, गृह मंत्री ने कहा।73 वें स्थापना दिवस पर दिल्ली पुलिस को बधाई देते हुए गृह मंत्री ने कहा कि जब हम दिल्ली और देश की सुरक्षा में दिल्ली पुलिस की भूमिका को देखते हैं तो ज्ञात होता है कि दिल्ली पुलिस न केवल भारत की बल्कि पूरे विश्व के महानगर पुलिस बलों की प्रमुख पंक्ति में अपना स्थान सुनिश्चित करती है, जो कि पूरे देश के लिए गौरव का विषय है। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस के लिए यह भी गौरव का विषय है कि उसकी स्थापना स्वयं लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल ने की, जिनकी भूमिका पूरे देश को अखंड बनाने में अद्वितीय है।श्री शाह ने सरदार पटेल के वक्तव्य को याद करते हुए कहा कि पुलिस को सदैव यह ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी कारणवश उत्तेजना में आए बिना नागरिकों को उपद्रवियों से सुरक्षित रखना उनका परम कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि हमें इस बात का गर्व है कि दिल्ली पुलिस ने सरदार पटेल की इस सीख को हमेशा चरितार्थ किया है। श्री शाह ने कहा की स्थापना से आज तक देश की राजधानी में जितने राष्ट्रीय पर्व मनाए गए, विभिन्न राष्ट्रों के अध्यक्ष दिल्ली आए, दिल्ली पुलिस ने सदैव इन सभी कार्यक्रमों का संचालन बिना किसी चूक के सफलतापूर्वक सुनिश्चित किया है। यही कारण है कि राजधानी में चाहे कितना भी बड़ा समारोह या राष्ट्रीय पर्व का आयोजन हो, आज तक देश निश्चिंत होकर इसकी ज़िम्मेदारी दिल्ली पुलिस के कंधों पर छोड़ता आया है, उन्होंने कहा।प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की बात को दोहराते हुए श्री शाह ने कहा की हर नागरिक को यह ध्यान रखना चाहिए कि पुलिस हमारी सुरक्षा के लिए है और केवल उसकी आलोचना करना या उपद्रवियों का उसे निशाना बनाना ठीक नहीं है, बल्कि उसके काम को समझना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि पुलिस देश में शांति व सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने का काम बिना किसी धर्म या जाति देखकर करती है और ज़रूरत के समय मदद भी करती है। पुलिस किसी की दुश्मन नहीं है, पुलिस शांति और व्यवस्था की दोस्त है, इसलिए सदैव उसका सम्मान किया जाना चाहिए।गृह मंत्री ने कहा कि हर नागरिक पुलिस की आलोचना करने वालों और उन पर व्यंग्यात्मक टिप्पणी करने वालों को ध्यान से सुने, परंतु यह भी ध्यान रखना आवश्यक है कि भारत की आज़ादी के बाद 35000 से अधिक जवानों ने देश की सुरक्षा और कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया है। श्री शाह ने कहा कि जब आम नागरिक त्यौहार मनाता है, तब पुलिस त्यौहार मनाने की बजाय अपने कर्तव्य का निर्वहन करती है। इसीलिए देश के हर नागरिक के हृदय में पुलिस के लिए सम्मान अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने इन 35000 जवानों की शहादत का सम्मान करते हुए दिल्ली के हृदय में राष्ट्रीय पुलिस स्मारक की स्थापना की है, जो इन जवानों के परम बलिदान की गौरवपूर्ण गाथा को हमारे सामने रखता है। देश के नागरिकों से अपील करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि जब भी वे दिल्ली आयें तो इस स्मारक के दर्शन अवश्य करें, जोकि उनकी तरफ से जवानों के बलिदान को परम श्रद्धांजलि होगी।दिल्ली पुलिस की उपलब्धियों का बखान करते हुए श्री शाह ने कहा कि यह पुलिस बल अपने आप में विचित्र है जिस के कार्यक्षेत्र में संसद भवन और प्रधानमंत्री निवास की सुरक्षा से लेकर 3 राज्यों से लगी सीमा की निगरानी और दिल्ली के नागरिकों की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी है। आतंकवाद, महिलाओं की सुरक्षा, पूर्वोत्तर के नागरिकों की सुरक्षा, साइबर क्राइम से निपटने और डिप्लोमेटिक एरिया की सुरक्षा जैसी कई चुनौतियां होने के बाद भी दिल्ली पुलिस ने हर चुनौती का मुस्तैदी के साथ डट कर सामना किया है। चाहे स्मार्ट पोलिसिंग हो या केंद्र सरकार द्वारा महिला सुरक्षा के लिए 112 हेल्पलाइन का कार्यान्वयन हो, नागरिकों को साइबर अपराधों से बचाने के लिए नेशनल फॉरेंसिक लैब हो या इंडियन साइबर क्राइम कोआर्डिनेशन सेंटर और साइबर क्राइम यूनिट की शुरुआत हो, दिल्ली पुलिस सदैव अपेक्षाओं पर खरी उतरी है। उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस साइबर अपराधों से निपटने के लिए अन्य एजेंसियों के साथ तालमेल बैठाते हुए नोडल एजेंसी का काम सफलता से कर रही है। श्री शाह ने केंद्र सरकार द्वारा लिए जाने वाले अन्य कदमों का उल्लेख किया जिनसे दिल्ली पुलिस की क्षमता में वृद्धि की जा रही है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सेफ सिटि परियोजना के तहत, केंद्र सरकार ने राजधानी की सुरक्षा के लिए 857 करोड़ रुपये मंज़ूर किए हैं और सार्वजनिक स्थानों की निगरानी के लिए, अपराध मानचित्र के आधार पर, 165 पुलिस स्टेशनों के अधिकार क्षेत्र में लगभग 10000 सीसीटीवी कैमरे स्थापित किए गए हैं। महिला सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने दिल्ली पुलिस को लगभग 9300 सीसीटीवी कैमरों की स्वीकृती प्रदान की है। उन्होंने बताया कि हिम्मत एप हो, ई मोटर व्हीकल एप हो या ऑनलाइन करैक्टर वेरिफिकेशन सर्टिफिकेट, दिल्ली पुलिस के एसे डिजिटल प्रयोगों से उसका जन संपर्क कई गुना बढ़ा है और नागरिकों के लिए सुविधाएं बढ़ी हैं। इन कदमों से न केवल पुलिस और जनता के बीच की दूरी घटेगी बल्कि उनके बीच विश्वास में वृद्धि होगी, गृह मंत्री ने कहा।दिल्ली पुलिस कर्मियों के लिए कल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख करते हुए श्री शाह ने कहा कि केंद्र सरकार ने मध्यम आय वर्ग (MIG) के लिए तैयार 200 फ्लैटों के दिल्ली पुलिस कर्मियों को आवंटन के लिए 137 करोड रुपए की राशि प्रदान की है। इसके अलावा अतिरिक्त 582 फ्लैट खरीदने हेतु गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस को 88 करोड रुपए की राशि प्रदान की है। दिल्ली पुलिस अपने कर्मियों के लिए 700 से अधिक आवासों का निर्माण कर रही है जिससे आने वाले समय में पुलिस कर्मियों के आवास संतुष्टि स्तर में वृद्धि होगी। 467 करोड़ रुपए की लागत से 501 MIG फ्लैट खरीदने की प्रक्रिया को अनुमोदन मिला है। मेडिकल मामलों में अनुमोदन को गति प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ परामर्श से दिल्ली पुलिस आयुक्त को 25 लाख रुपए तक के अनुमोदन की शक्तियां प्रदान की गई हैं।श्री शाह ने कहा कि 1991 से लेकर आज तक 30 दिल्ली पुलिस के कर्मी शहीद हुए जिसमें संसद पर हमले से लेकर आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ की अनेक घटनाएं हैं। श्री शाह ने विशेष रूप से संसद हमले में शहीद दिल्ली पुलिस के कीर्ति चक्र विजेता जवानों और बाटला हाउस आतंकवादी मुठभेड़ में शहीद निरीक्षक मोहन चंद शर्मा को याद किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी।अपनी वाणी को विराम देते हुए गृह मंत्री ने परेड में उपस्थित सभी से प्रार्थना की कि प्रधानमंत्री मोदी के स्मार्ट पुलिसिंग के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हर एक नागरिक को अपनी भूमिका और ज़िम्मेदारी का सच्चे मन से निर्वहन करना होगा।

Posted in Uncategorized

जरूरतमंद मास्टर कारीगरों और शिल्पकारों के आर्थिक सशक्तीकरण के लिए “हुनर हाट” एक “मेगा मिशन” साबित हुआ है: श्री मुख्तार अब्बास नकवी

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री, श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि देश भर में अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा आयोजित किए जा रहे “हुनर हाट”, जरूरतमंद मास्टर कारीगरों और शिल्पकारों के आर्थिक सशक्तीकरण के लिए एक “मेगा मिशन” साबित हुए हैं। उन्होंने ये बातें आज मध्यप्रदेश के इंदौर में, मध्यप्रदेश के राज्यपाल श्री लालजी टंडन के साथ “हुनर हाट” का उद्घाटन करने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए कहा।श्री नकवी ने कहा कि “हुनर हाट” स्वदेशी शिल्प, पाक-कला और संस्कृति तथा मास्टर कारीगरों, शिल्पकारों के आर्थिक सशक्तीकरण का एक “मेगा मिशन” बन चुका है। उन्होंने कहा कि “हुनर हाट” की सफलता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले 3 वर्षों में लगभग 3 लाख जरूरतमंद मास्टर कारीगरों, शिल्पकारों और पाक-कला विशेषज्ञों को “हुनर हाट” के माध्यम से रोजगार प्रदान किया गया है और रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए हैं। इन लाभार्थियों में बड़ी संख्या में महिला कारीगर भी शामिल हैं।श्री नकवी ने कहा कि अगले 5 वर्षों में पूरे देश में लगभग 100 “हुनर हाट” का आयोजन किया जाएगा, जिससे माध्यम से लाखों कारीगरों और शिल्पकारों और उनसे जुड़े लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।श्री नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार द्वारा न केवल मास्टर कारीगरों और शिल्पकारों को रोजगार का अवसर प्रदान किया जा रहा है, बल्कि यह उनके पारंपरिक विरासत को संरक्षित कर रही है और बढ़ावा भी दे रही है, जो विलुप्त होने के कगार पर आ चुकी थी।श्री नकवी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा देश के विभिन्न हिस्सों में 100 “हुनर हब” को स्थापित करने की मंजूरी प्रदान की गई है। इन “हुनर हब” में आधुनिक जरूरतों के हिसाब से मास्टर कारीगरों, शिल्पकारों और पारंपरिक पाक-कला विशेषज्ञों को प्रशिक्षण प्रदान किया  जा रहा है और उनको राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बाजार उपलब्ध करवाया जा रहा है।श्र नकवी ने यह भी कहा कि “हुनर हाट” का आयोजन पूरे देश के प्रमुख स्थानों पर किया जा रहा है, जो कि जरूरतमंद कारीगरों औरशिल्पकारों के लिए आर्थिक रूप से फायदेमंद साबित हो रहा है, प्रत्येक “हुनर हाट” कारीगरों और शिल्पकारों के स्वदेशी हस्तनिर्मित उत्तम उत्पादों के लिए करोड़ों रुपये का व्यवसाय उत्पन्न करता है। ये कारीगर अपने उत्पादों के लिए न केवल घरेलू बाजारों से बल्कि अंतर्राष्ट्रीय बाजारों से भी ऑर्डर प्राप्त कर रहे हैं। “हुनर हाट” मास्टर कारीगरों और शिल्पकारों के लिए “रोजगार और सशक्तीकरण एक्सचेंज” बने हुए हैं।श्री नकवी ने कहा कि इंदौर में आयोजित होने वाला “हुनर हाट”, अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा आयोजित होने वाला 19 वां “हुनर हाट” है। अभी तक देश के विभिन्न स्थानों में “हुनर हाट” का आयोजन किया जा चुका है जैसे कि दिल्ली, मुंबई, इलाहाबाद, लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, हैदराबाद और पुदुचेरी। अगले “हुनर हाट” का आयोजन (13 से 23 फरवरी, 2020 तक) इंडिया गेट मैदान, राजपथ, नई दिल्ली में; 29 फरवरी से 8 मार्च तक रांची में और 13 से 22 मार्च, 2020 तक चंडीगढ़ में किया जाएगा।श्री नकवी ने कहा कि आने वाले दिनों में, “हुनर हाट” का आयोजन गुरुग्राम, बेंगलुरु, चेन्नई, कोलकाता, देहरादून, पटना, भोपाल, नागपुर, रायपुर, पुदुचेरी, अमृतसर, जम्मू, शिमला, गोवा, कोच्चि, गुवाहाटी, भुवनेश्वर, अजमेर और अन्य स्थानों पर किया जाएगा।इससे पहले, सभा को संबोधित करते हुए मध्य प्रदेश के राज्यपाल, श्री लालजी टंडन ने कहा कि भारत विविधताओं वाला देश है जहां प्रत्येक क्षेत्र की अलग-अलग कलाएं, संस्कृति, भाषा और वेशभूषा है। भारत की पहचान “अनेकता में एकता” के रूप में होती है। देश के प्रत्येक हिस्से में कला और शिल्प की अपनी विरासत हैहुनर हाट” के माध्यम से कारीगरों को बड़ी मात्रा में रोजगार का अवसर प्रदान करने के लिए लालजी टंडन ने श्री नकवी को बधाई दी। राज्यपाल ने कहा कि श्री नकवी के नेतृत्व में अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा, देश में कला/ शिल्प की समृद्ध विरासत को अवसर और बाजार प्रदान करके, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के “ड्रीम प्रोजेक्ट” को मजबूती प्रदान किया जा रहा हैराज्यपाल ने कहा कि अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय द्वारा देश के प्रत्येक कोने के कुशल लोगों की शानदार विरासत को संरक्षित करने और उन्हें बढ़ावा देने और उन्हें राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय बाजार प्रदान करने का ऐतिहासिक कार्य किया जा रहा हैइंदौर में “हुनर हाट” का आयोजन 08 से 16 फरवरी, 2020 तक किया जा रहा है, इसमें 125 स्टॉल लगाए गए हैं और देश भर के 250 से ज्यादा मास्टर कारीगर, शिल्पकार और पाक-कला विशेषज्ञ इसमे भाग ले रहे हैं। इन कारीगरों में बड़ी संख्या में महिला कारीगर भी शामिल हैं। वे लोग अपने साथ स्वदेशी उत्तम हस्तनिर्मित उत्पाद लेकर आए हैं। “बावर्चीखाना” द्वारा कई राज्यों की पारंपरिक व्यंजनों का स्वाद प्रदान किया जाएगा। दैनिक रूप से आयोजित किए जा रहे सांस्कृतिक कार्यक्रम,  इंदौर के “हुनर हाट” के प्रमुख आकर्षणों में से एक होंगे।

Posted in Uncategorized

गैसपाइपलाइनें बिछाने में  आ रही हैं अड़चने, राज्यों से संवाद करेगा पेट्रोलियम मंत्रालय

नई दिल्ली, 13 जनवरी, ।घर तक गैस पाइपलाइन बिछाने की केन्द्रीय सरकार की महत्वकांक्षी योजना में राज्यों की तरफ से अड़चनें सामने आने लगी है। इस समस्या को देखते हुए केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्रालय अब राज्यों से इस संबंध में बात करेगा। इसी मकसद से मंत्रालय ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर दिल्ली आने को कहा है।मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार कई राज्यों में पाइपलाइन बिछाने के काम में जमीन नहीं मिलने की समस्या पेश आ रही है। उस समस्या को दूर करने के लिए केन्द्र सरकार अब राज्य सरकारों से बात करेगा। इस संबंध में आगामी 23 जनवरी को दिल्ली में मंत्रालय के आलाअधिकारी राज्यों के साथ बैठक करेंगे।पेट्रोलियम मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार अगले छह साल में देश भर में 2 करोड़ घरेलू कनेक्शन लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके साथ 4600 सीएनजी केन्द्र भी लगाए जाने हैं। केन्द्र की इस महत्वकांक्षी योजना में राज्यों की तरफ से जमीन न मिलने की समस्या आ रही है। खासकर उन राज्यों में जहां गैरभाजपाई सरकार है। अधिकारी ने बताया कि इस योजना को सिरे चढ़ाने में आ रही दिक्कतों की सूची बना कर उन्हें दूर करने का एक्शन प्लान तैयार करेगा। इसके लिए 23 जनवरी सभी राज्यों के अधिकारियों को बुलाया गया है।

 

Posted in Uncategorized

आरपीएफ ने टिकट दलाल को गिरफ्तार किया

मुंबई,13 जनवरी । नालासोपारा आरपीएफ ने ई- टिकट की कालाबाजारी करने वाले एक टिकट दलाल को गिरफ्तार किया है। आरपीएफ ने कारवाई में दलाल के पास से नगदी सहित ई टिकट बरामद किया है। आरपीएफ ने कार्यवाही की जानकारी सोमवार को दी है। नालासोपारा रेलवे स्टेशन के आरपीएफ इंचार्ज नाथूराम जाट के निर्देश पर दलालों पर नजर रखी जा रही थी। उप.निरीक्षक गोपाल लाल मीणा महिला हेड कांस्टेंबल संगीता तांजे,हेड कांस्टेबल सतीश मांजरेकर, संदीप गायकवाड़,जगदीश पाटिल,कांस्टेबल परमवीर सिंह ने संतोष भोला नाथ दुबे (30) को संदिग्ध अवस्था में पकड़ा गया,पूछताछ करने पर उसने अवैध रूप से रेलवे ई- टिकटों की कालाबाजारी करना स्वीकार किया। संतोष के पास से 7 ई-टिकट,जिनकी यात्रा शेष है। कीमत 21076 रुपये और घटनास्थल से 1 मोबाइल जप्त कर,उसे आरपीएफ कार्यालय पर लाया गया। आरपीएफ ने बताया कि संतोष ने पूछताछ करने पर रेलवे ई-टिकटो का व्यापार करना स्वीकार किया उसके खिलाफ रेल अधिनियम 143 के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया गया है। आगे की जाँच उप निरीक्षक गोपाल लाल मीणा कर रहे हैं।

Posted in Uncategorized

मौसम विभाग की ओर से राज्य भार में जारी है हाई अलर्ट  

देहरादून, 13 जनवरी। उत्तराखण्ड में मौसम फिर करवट लेने लगा है। मौसम विभाग की चेतावनी का असर सोमवार सुबह से ही दिखने लगा। देहरादून सहित प्रदेश के अन्य स्थानों पर आसमान में काले बादल छाए रहे, जिससे ठंड अधिक महसूस की गई। विभाग की ओर से प्रदेश के अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी, ओलावृष्ठि के साथ बारिश की संभावना जताई गई है। अलर्ट के मद्देनजर पुलिस प्रशासन पूरी मुस्तैदी बरत रहा है। बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के साथ ही उच्च हिमालय में रविवार को रुक-रुककर हिमपात हुआ।सोमवार को राजधानी देहरादून सहित प्रदेश के ऊंचाई व मैदानी इलाकों में मौसम पूरी तरह बदला दिखा। धूप नहीं निकलने से  लोगों को कड़ाके की ठंड से राहत नहीं मिली। अभी कुछ दिन पहले ही बारिश और बर्फबारी का गलन से राज्यवासी जहां परेशान थे वहीं बर्फ पिघलने से यातायात की समस्या से दो चार होना पड़ रहा है। इन सबके बीच मौमस ने फिर एक बार अपना तेवर बदलकर लोगों के लिए मुसीबत बना सकता है। विभाग की ओर से प्रदेश के जिला प्रशासन को हाई अलर्ट पर रखा गया। इसके लिए, राजस्व, ग्रामविकास पदाधिकारी के साथ समस्त थाने- चौकियों को पूरी सतर्कता के साथ काम करने के निर्देश दिए गए हैं। मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह का कहना है कि देहरादून, हरिद्वार, ऊधमसिंह नगर, पौड़ी और नैनीताल में बारिश के साथ ही सोमवार को ओलावृष्टि हो सकती है। जबकि 3000 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले विशेषकर उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली जिले में बर्फबारी हो सकती है। वहीं मंगलवार को मौसम साफ होने की संभावना है। उधर, प्रदेश में मौसम की दुश्वारियों से अभी निजात नहीं मिली है। सैकड़ों से ज्यादा गांवों में बिजली की आपूर्ति अब भी सुचारु नहीं हो पाई है। इसके साथ ही कई गांवों का मार्ग भी बाधित है जिसे खोलने का कार्य जारी है। मसूरी, केम्पटी, लाल टिब्बा, कंपनी गार्डन के लिए वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई है। यहां बर्फ पर पाला पड़े होने से सड़कों पर वाहन नहीं चल पा रहे थे, जो पिछले पांच दिन से बंद थे। मसूरी-धनोल्टी मार्ग पर बुरांशखंडा तक वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई है। तुरतरिया के पास बर्फ पर पाला जमा होने से वाहन बुरांशखंडा से आगे धनोल्टी की तरफ नहीं जा पा रहे हैं। मसूरी कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक विद्या भूषण नेगी के मुताबिक अभी बुरांशखंडा से आगे बर्फ जमा होने से रास्ता खतरनाक बना हुआ है, यहां बर्फ पर काफी पाला जमा है। इसलिए लोगों को बुरांशखंडा से आगे नहीं जाने की सलाह दी जा रही है।प्रदेश में हुई बर्फबारी से जहां आम जनजीवन पर खासा असर पड़ा, वहीं परिवहन निगम को भी करारा झटका लगा है। बर्फबारी के चलते बसों का संचालन न होने से परिवहन निगम की आय में भारी कमी हुई है।महाप्रबंधक दीपक जैन की मानें तो बर्फबारी से विभाग का बहुत नुकसान हुआ है। कितना क्षति हुआ है इसका आकलन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि परिवहन निगम के पर्वतीय डिपो व आईएसबीटी से पर्वतीय इलाकों के लिए बसों का संचालन किया जाता है लेकिन पिछले दिनों मसूरी समेत राज्य के ज्यादातर पर्वतीय इलाकों में हुई बारिश व भारी बर्फबारी के चलते बसों का संचालन नहीं हो पाया।