Category: गोवा

Posted in खेल गोवा

इंडियन एरोज ने चर्चिल ब्रदर्स को दी 2-1 से मात

 गोवा । हीरो आई-लीग में इंडियन एरोज ने चर्चिल ब्रदर्स एफसी गोवा को उसके ही घर में 2-1 से हरा दिया। यह गोवा की तीन मैचों में पहली हार है जबकि एरोज की चार मैचों में पहली जीत है।   शनिवार को खेले गए इस मुकाबले में गोवा के कोच बर्नाडो तवारेस ने दावड़ा सीसै को बाहर बैठा खालिफ अल हसन के साथ शुरुआत की। मेजबान टीम को पहले हाफ में ही एरोज का खेल देख हैरानी हुई क्योंकि आज एरोज की टीम बहुत की अलग नजर आ रही थी।   एरोज शुरू से ही आक्रामक खेल रही थी और गोल करने के लिए पूरी जद्दोजहद कर रही थी। उसके पास मैच के पांचवें मिनट में ही मौका आया था जब कप्तान विक्रम प्रताप सिंह ने गोल करने के लिए क्रॉस दिया लेकिन गेंद सीधे गोवा के गोलकीपर के हाथों में चली गई। एरोज जहां आक्रामक खेल रही थी तो गोवा भी पीछे नहीं थी और वह एरोज को हताश कर मैच का पहला गोल करने में सफल रही।   गोवा के लिए यह गोल रादानफा अबु बकर ने 42वॆं मिनट में किया। इस मिनट गोवा को कॉर्नर मिला जिसे इजरायल गुरंग ने लिया। गुरंग की किक पर बकर ने शानदार हेडर ले गेंद को नेट में डाल गोवा का खाता खोल दिया। दूसरे हाफ में गोवा 1-0 की बढ़त के साथ उतरी थी और पहले हाफ की अपेक्षा ज्यादा आत्मविश्वासी नजर आ रही थी।  वहीं एरोज बराबरी की कोशिश में थी। 47वें मिनट में अमन छेत्री ने एरोज के कप्तान को क्रॉस दिया जो नेट में नहीं जा सका। एरोज बराबरी की कोशिश में थी और उसे सफलता 78वें मिनट में मिल गई।  इस बार अमन छेत्री के पास को मोइरांगथेम गिवसन सिंह ने शानदार तरीके से नेट में डाल एरोज को बराबरी पर ला गोवा को मायूस कर दिया। लग रहा था कि मैच बराबरी पर समाप्त होगा लेकिन गोवा के जूनियर प्रीमस और जेम्स किथान के बीच गलतफहमी में एरोज को मौका दिया और सब्स्टीट्यूट खिलाड़ी तेलेम सुरनजीत सिंह ने 90वें मिनट में एरोज के लिए दूसरा गोल कर अपनी टीम को जीत दिला दी। एरोज के गिवसन सिंह को हीरो ऑफ द मैच का अवार्ड मिला।
Posted in गोवा मनोरंजन

गोवा के पूर्व सीएम मनोहर पर्रिकर पर बनेगी बायोपिक, अगले साल 13 दिसंबर को होगी रिलीज

गोवा के एक फिल्म प्रोडक्शन हाउस ने घोषणा की है कि  गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के जीवन पर एक बायोपिक बनाई जाएगी। गो गोवा बॉलीवुड प्रोडक्शन ने पूर्व रक्षा मंत्री के बेटे उत्पल पर्रिकर के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। फिल्म को अगले साल 13 दिसंबर को रिलीज करने की योजना है। 13 दिसंबर को पर्रिकर की जयंती है। फिल्म हिंदी और कोंकणी में बनाया जाएगा। 63 वर्ष की आयु में मनोहर पर्रिकर का इसी वर्ष 17 मार्च को निधन हो गया था। फिल्म निर्माता स्वप्निल शेटकर ने कहा कि फिल्म पर्रिकर के निजी और राजनीतिक जीवन पर केंद्रित होगी। फिल्म में पर्रिकर के साथ-साथ विवादों की सभी उपलब्धियों को दिखाया जाएगा। यह फिल्म 2000 में पहली बार मुख्यमंत्री बनने से पहले पर्रिकर के जीवन पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित करेगी। फिल्म पर काम करीब तीन साल पहले शुरू हुआ था, जब पर्रिकर देश के रक्षा मंत्री थे। बायोपिक अगले साल 13 दिसंबर को पर्रिकर की जयंती के मौके पर रिलीज होगी। पर्रिकर ने नरेंद्र मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान 2014 से 2017 तक रक्षा मंत्री के रूप में कार्य किया। हालांकि, बीजेपी राज्य विधानसभा चुनाव में बहुमत हासिल करने में विफल रही थी, लेकिन बीजेपी ने तब क्षेत्रीय दलों के समर्थन से पर्रिकर के नेतृत्व में गठबंधन सरकार बनाई थी। 24 अक्टूबर, 2000 को पर्रिकर पहली बार सीएम बने थे। इसके बाद 2002 से 2005, तीसरी बार 2012-2014 और चौथी बार 2017-2019 तक गोवा के सीएम पद पर रहे। एक सर्वेक्षण के अनुसार पर्रिकर के कार्यकाल में गोवा लगातार तीन साल तक भारत का सर्वश्रेष्ठ शासित प्रदेश रहा है। पर्रिकर गोवा में मिस्टर क्लीन के नाम से जाना जाते थे और वह 16 से 18 घंटे तक काम करते थे।